दिल्ली इलेक्शनस 2020 में डक्स बोले -कांग्रेस व्यंग्य कर रही है

व्यंग्य लेख

व्यंग्य :कांग्रेस के एक बड़े नेता गुमनाम बड़े नेता ने बयान दिया की “हमने पिछले बार की तरह ही काफी मेहनत की है और अपना सारे सीट्स बचा ली है .

हमारे संवाददाता कटाक्ष छी सिन्हा को इंटरव्यू देते हुए उन्होंने कहा ” केजरीवाल दिल्ली का बेटा बने बैठे थे ,मोदी झोलेवाला और झंडेवाला रिलेशनशिप दिखा के वोट मांग रहे थे।

नीतीश कुमार बिहार में बहार दिखाकर दिल्ली में वोटर्स को रिंझा रहे थे। ”

 इन सारी कठिनाइयों के बावजूद दिल्ली कांग्रेस ने जी तोड़ मेहनत की और अपनी हार सुनिश्चित करने के लिए जनता को मनाने में सफल रहे. उनकी मेहनत का का ही नतीजा है कि आज कांग्रेस  शुन्य सीट लेकर तीसरे स्थान पर मजबूत स्थित है” ।

इलेक्शन कमिशन ने कांग्रेस का सीना चौड़ा कर दिया जब उन्होंने घोषणा की दिल्ली चुनाव में तीन पार्टियां ही चुनाव लड़ रही थी ।

इस बड़े नेता का कहना है कि “ सोनिया गांधी का बहुत बड़ा योगदान है क्योंकि अगर बीमार नहीं होती तो दोनों बच्चे इलेक्शंस में अपना योगदान देते और हम तीन नंबर वाली सीट खो देते । “

इस नेता ने अपने भाई तेजिंदर सिंह बग्गा को थैंक यू बोला है ।

यह लकड़बग्घे की तरह किसी को भी कूट देते हैं इससे कांग्रेस के लिए दिल्ली की जनता में सहानुभूति पैदा होती है।

उधर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष माकन जी का कहना है की मेरे घर का मकान और माकन का मकान दोनों एक ही हैं।

भाजपा वाले इसे अलग-अलग बताकर सांप्रदायिक राजनीति कर रहे हैं ।

उन्होंने अपने मेहनत का ब्यौरा देते हुए कहा “हमने अपने आम चुनाव के दौरान से भी ज्यादा मेहनत की और उसी का नतीजा है कि आज फिर हमें 0 बटा स्वाहा मिला है । ‘

इससे मन में पेप्सी वाली आहा की खुशबू आ रही है”।

हाल फिलहाल कांग्रेस में आए कीर्ति आजाद का कहना था की उन्होंने कांग्रेस को दिल्ली से आजाद कराकर अपना नाम आजाद को सही साबित किया है ।

हास्य व्यंग

इस कार्य में अपनी पत्नी पूनम भरपूर सहयोग मिलने पर खुशी जाहिर की है. अब उन्हें उम्मीद है कि प्रदेश अध्यक्ष कि किसी भी संभावना से वो आजाद हो जाएंगे ।

राहुल गांधी ने आज 10 लोगों की भव्य रैली की और कहां “हमारी पेंट शर्ट की की सरकार संवैधानिक मूल्यों पर चलेगी चाहे वह दशको तक सरकार में ना रहे । उनका मानना था सूट बूट की सरकार में ज्यादा कपड़े लगते हैं और हमारी आर्थिक स्थिति इतनी कपड़ों की नहीं है । ”

उन्होंने भी दिल्ली की जनता का खुले दिल से वोट ना देने पर धन्यवाद देते कहा “दिल्ली वालों अरविंद जी तो केवल बेटे हैं, मैं तो नाती हूं ।

आपका इतना प्यार देखकर मुझे फिर बैंकॉक जाकर भारत की संस्कृति को बढ़ाने की चूल मची है । “

बहन प्रियंका ने इस जीत के लिए योगी सरकार की दमनकारी नीतियों का श्रेय  दिया है.

उनका कहना था उत्तर प्रदेश से दबे कुचले लोग दिल्ली आकर हमें भारी मात्रा में वोट ना देकर, हमारी स्थिति को बरकरार रखा है।

वह अपनी नानी को याद करते हुए बोली “उनका हेयर स्टाइल बिना किसी कंडीशनर के अच्छा था .मैं कोशिश करूंगी की मैं भी वैसा कुछ कर पाऊं ।

सरकार ना बनवा कर आप लोगों ने मुझे देश और विदेश में हर तरह के हेयर स्टाइलिस्ट के साथ काम करने का जो मौका दिया है उसके लिए मैं सदा ही आपकी आभारी रहूंगी” ।


उधर कांग्रेस प्रवक्ता चरणजीत सिंह सापरा का कहना था ” ना जंगपुरा ना शाहपुरा और ना ही सापरा, दिल्ली ने सूपड़ा साफ़ करा, थैंक्यू दिल्ली ।

हमें उम्मीद है की दिल्ली वाले हमारी नाउम्मीदी का दहन 2147 में कर देंगे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: